नवभारत टाइम्स की एक खबर के अनुसार राजस्थान सरकार ने छठवीं से आठवीं क्लास तक के सिलेबस में संशोधन कर गोरक्षा सम्बंधित पाठ्यक्रम को जोड़ दिया है। इस सिलेबस में महाराणा प्रताप, आर्यभट्ट, चाणक्य जैसे व्यक्तित्वों के बारे में डीटेल में जानकारी दी जाएगी।

स्टेट इंस्टिट्यूट ऑफ एजुकेशनल रिसर्च ऐंड ट्रेनिंग (SIERT) के प्रमुख प्रदीप पनेरी ने गुरुवार को बताया,'इस सेशन के लिए सिलेबस रिवाइज किया गया है। कोर्स में गोरक्षा और महाराणा प्रताप, आर्यभट्ट, चाणक्य, विश्वैश्वरैया,भास्कराचार्य, वराहमिहिर, रामानुजन, जे.सी. बोस और होमी जहांगीर भाभा के बारे में डीटेल से जानकारी दी गई है। इसके अलावा किताबों में गौरक्षा की अहमियत के बारे में भी विस्तार से बतताया गया है।'

पनेरी ने कहा,'हम चाहते थे कि बच्चे इन महान लोगों के योगदान को जानें। वे समझें कि समाज सुधार और देश के विकास के लिए उनके किए गए कामों के बारे में जानें और समझें। छठवीं से आठवीं क्लास तक का सिलेबस रिवाइज किया गया है। जिसमें हिंदी, संस्कृत, सायेंस और मैथ्स का सिलेबस बदला गया है। नया सिलेबस इस शैक्षणिक सत्र से लागू हो जाएगा।'

शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी ने हाल ही में संकेत दिया था राज्य सरकार महाराणा प्रताप जैसे महापुरुषों के बारे में स्कूल की किताबों में पढ़ाया जाएगा। राजस्थान सरकार ने छठवीं से आठवीं क्लास तक के सिलेबस में संशोधन किया है। इस सिलेबस में महाराणा प्रताप, आर्यभट्ट, चाणक्य जैसे व्यक्तित्वों के बारे में डीटेल में जानकारी दी जाएगी। इसके अलावा बच्चों को गोरक्षा का पाठ भी पढ़ाया जाएगा।

स्टेट इंस्टिट्यूट ऑफ एजुकेशनल रिसर्च ऐंड ट्रेनिंग (SIERT) के प्रमुख प्रदीप पनेरी ने गुरुवार को बताया,'इस सेशन के लिए सिलेबस रिवाइज किया गया है। कोर्स में गोरक्षा और महाराणा प्रताप, आर्यभट्ट, चाणक्य, विश्वैश्वरैया,भास्कराचार्य, वराहमिहिर, रामानुजन, जे.सी. बोस और होमी जहांगीर भाभा के बारे में डीटेल से जानकारी दी गई है। इसके अलावा किताबों में गौरक्षा की अहमियत के बारे में भी विस्तार से बतताया गया है।'

 पनेरी ने कहा,'हम चाहते थे कि बच्चे इन महान लोगों के योगदान को जानें। वे समझें कि समाज सुधार और देश के विकास के लिए उनके किए गए कामों के बारे में जानें और समझें। छठवीं से आठवीं क्लास तक का सिलेबस रिवाइज किया गया है। जिसमें हिंदी, संस्कृत, सायेंस और मैथ्स का सिलेबस बदला गया है। नया सिलेबस इस शैक्षणिक सत्र से लागू हो जाएगा।'

शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी ने हाल ही में संकेत दिया था राज्य सरकार महाराणा प्रताप जैसे महापुरुषों के बारे में स्कूल की किताबों में पढ़ाया जाएगा।


सोर्स: http://navbharattimes.indiatimes.com/state/rajasthan/jaipur/rajsthan-govt-revise-school-syllabus-includes-cow-protection-as-a-lesson/articleshow/47298987.cms