आम तौर पर होली के दिन कई लोग होलिका में लकड़ियों के साथ साथ कई अन्य चीजें भी डाल देते हैं जिससे प्रदूषण फैलता है। लकडिय़ां भी अलग अलग तरह की होती है जिसका धुआं स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। ऐसे में जैसलमेर में अनूठी पहल के तहत गोबर के कंडोंं से होलिका दहन का प्रयास किया जा रहा है और भास्कर ने भी इस मुहिम को जनता तक पहुंचाने का बीड़ा उठाया है। गो गीता गायत्री सेवा समिति ने जैसलमेर की गोशालाओं के संचालकों के साथ मीटिंग कर इस बार होलिका में लकड़ियों की जगह गोबर के कंडों के इस्तेमाल पर जोर देने का आह्वान किया है। गोशाला संचालक भी तैयार हैं। अब बस जरूरत है तो शहरवासियों के इसके प्रति जागरूक होने की।Read More